Google के साथ विवादों मे चलते PaytM ने Mini एप्प स्टोर लॉन्च किया जाने क्या है मामला


Google के साथ विवादों मे चलते PaytM ने Mini एप्प स्टोर लॉन्च किया जाने क्या है मामला 

जैसा की आप जानते है कुछ दिनों पहलेही paytm को Google ने अपने प्ले स्टोर से हटा दिया था Google का कहना था की Paytm ने बहोत पॉलिसी का उलघन किया है. इसके बाद 24 घंटे मे एप्प रिकवर होकर प्ले स्टोर पर आया था. ऐसी ही paytm काफ़ी समय से विवादों मे दिख रही है इसी के बिच प्ले स्टोर की बात निकलकर आयी आयी है चलिए जानते है क्या है मामला.. 




Paytm ने कुछ दिन पहले एक ऐड  न्यूज़ पेपर मे चलायी थी Paytm Mini App स्टोर के लॉन्च होने का इस एड्स मे कंपनी ने बोला की अपनी मिनी एप्प को paytm पर होस्ट करे इसी के साथ ये गुहार लगायी गई की आयो साथ मिलकर इंडिया की डिजिटल रेवोलुशन बनाते है. Paytm ने ऐड मे ये भी बताया की paytm डेवलपर को मिनी एप्प मे पेमेंट के लिए paytm वॉलेट या UPI इस्तेमाल करने पर किसी भी तरह का paytm चार्ज नहीं लगेगा और बाकि पेमेंट पर 2% चार्ज लगेगा. 


Paytm की तरफ से ये एड्स तब आया है जब इंडियन डिजिटल स्पेस मे स्टार्टअप फाउंडर google और उसके एंड्राइड प्ले स्टोर को लेकर सवाल उठा रहे है मगर google क्या है दिक्कत ?  इंडिया के स्मार्ट phone मार्केट मे 95% से ज्यादा शेयर google के एंड्राइड operating सिस्टम वाले phone का है और इंडियन स्टार्टअप फाउंडर का कहना है, google अपनी इस मोनोपोली का गलत इस्तेमाल कर राहा है. 


इस अमेरिकी जॉइंट से मकहलात जब शुरू हुई जब इसने paytm पर गैंबलिंग और पोर्ट बेटिंग का इंजाम लगाकर अपने प्ले स्टोर से निकाल दिया था. हालाकि paytm का कहना है की Paytm क्रिकेट लीग नाम के एक paytm UPI कैश बैक कैंपेन की वजह से बैन कर दिया गया था. कैंपेन हटाने के बाद एप्प की वापसी हो गई थी. कुछ दिन पहलेही google ने फ़ूड डिलीवरी एप्प जोमाटो, स्विग्गी को प्ले स्टोर की गाइड लाइन का भंग करने के वजह से नोटिस भेजा था वजह क्रिकेट के कैश बैक की थी. 



Paytm के फाउंडर और CEO विजय शेखर शर्मा का कहना है Google अपनी मनमानी कर राहा है. देश के क़ानून के हिसाब से काम करने के बावजूत भी google अपने खुद के गाइड लाइन के हिसाब से अपने एप्प को ब्लॉक कर डेटा है. Google कहता है की ये गाइड लाइन लोगो को फ़्रॉड से बचाने के लिए है. 



Google प्ले स्टोर से अगर कोई खरीदी होती है तो google उसका 30% खुद लेकर जाता है. ये कोई नई फीस नहीं है पर google इसे सकती से लागु कर राहा है. इसके बारे मे paytm जे शर्मा का कहना है की सरकार को इसमे हस्तक्षेप करना जरुरी है इसकी वजह से डिजिटल बिसनेस ग्रो नहीं कर पा रहे है. 50% से ज्यादा पहले google और FB ही लेकर जाता है तो इससे बिसनेस करना काफ़ी मुश्किल होता है नये स्टार्टअप के लिए भी



क्या है paytm का मिनी एप्प स्टोर 

Paytm के शर्मा के तरह ही कही सारे व्यवसायी लोगो ने इंडियन प्ले स्टोर एप्प की मांग रखी है ऎसी जगह जहाँ google की 30% कमीशन ना हो और कोई भी अच्छे से अपना नया डिजिटल बिसनेस शुरू कर सके. पर paytm का मिनी एप्प स्टोर अभी तक लॉन्च नहीं हुवा है ये सिर्फ paytm एप्प मे नजर आ राहा है असल मे ये स्टोर है ही नहीं ये एक मार्केट स्टोर है. यहाँ से कोई भी एप्प इनस्टॉल नहीं होता है इसके लिए आपको हर बार paytm एप्प को खोल कर मिनी एप्प मे जाना होगा इसके बाद ही सेर्विस चालू होंगी ये बहोत बडा एक लोचा है दोस्तों. और ये सिर्फ सर्विसेस के मोबाइल एप्प को चलाता है बाकि कोई एप्प को नहीं paytm ऐसा एक नहीं है की उन्होने ये किया है इसके पहलेही कही सारे प्लेटफार्म पर उपलब्ध है. 



दोस्तों इससे एक ही बात निकलकर आती है हर कोई अपना फायदा देख राहा है इसके लिए इंडियन प्ले स्टोर का होना जरुरी है दोस्तों.



Read Also