CSK कप्तान धोनी ने जमकर धोया प्लयेर्स को : RCB से मिली कड़ी हार


CSK को RCB ने दी हार के बाद धोनी ने टीम को जमकर धोया जाने 


दोस्तों जैसा की आप जानते CSK की टीम इस बार काफ़ी थकी नजर आ रही है. इससे काफ़ी फैन्स भी नाराज है CSK की करारी हार के बावजूद धोनी टीम पे काफ़ी नाराज है दोस्तों इसी के बारे हम आज जानने वाले है की धोनी ने क्या कहाँ चलिए जानते है. 





इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के 13 वें सीजन (IPL 2020) में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings, CSK) को एक और हार का सामना करना पड़ा, शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore, RCB) ने 37 रनों से जीत दर्ज की, सात मैचों में यह सीएसके की पांचवीं हार है.




RCB कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने नॉटआउट 90 रन बनाए, जिसके दम पर आरसीबी ने 20 ओवर में चार विकेट पर 169 रन बनाए. जवाब में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली cSK की टीम 20 ओवर में 8 विकेट पर 132 रन ही बना सकी. मैच के बाद कप्तान धोनी का गुस्सा बल्लेबाजों और गेंदबाजों पर निकला है दोस्तों.




कप्तान धोनी ने कहा, ‘मुझे लगता है कि आखिरी के चार ओवर जब हम गेंदबाजी कर रहे थे, तो सबकुछ रणनीति के मुताबिक नहीं हुआ, उसके पहले गेंदबाजों ने अच्छा काम किया था, हमें पारी को अच्छे से खत्म करना चाहिए था. बल्लेबाजी हमारे लिए चिंता का सबब बना हुआ है और इस मैच में भी वह साफ तौर पर नजर आया, हमें इसके बारे में कुछ करना होगा, हम पर ऐसे ही बोलते नहीं रह सकते. यह लगातार हो रहा है, हो सकता है हर बार अलग खिलाड़ी हो, लेकिन हमें इसके उलट खेलना होगा, आप बड़ा शॉट खेलें, भले आउट हो जाएं, हम 15-16 ओवर के बाद इतने रन नहीं छोड़ सकते, जिससे लोअर ऑर्डर के बल्लेबाजों पर इतना दबाव पड़े’ 



उन्होंने आगे कहा, ‘हमारी बल्लेबाजी में कमी नजर आ रही है, आप कह सकते हैं कि छठे ओवर के बाद कुछ पावर दिखाना होगा, आप किसी को कितना भी कॉन्फिडेंस दे दें, लेकिन अंत में उनके अपने प्लान होते हैं कि उन्हें कैसे खेलना है. 6 से 14 ओवर के बीच हम अपनी रणनीति के हिसाब से बल्लेबाजी नहीं कर रहे है. मैंने हमेशा खिलाड़ियों से कहा कि वह प्रोसस पर ध्यान दें, जब आप पहले या बाद के मैच के रिजल्ट पर ध्यान देते हैं, तो आप खुद पर एक्स्ट्रा दबाव बना लेते है. जब बात गेंदबाजी की आती है, तो हम दिखा चुके हैं कि हम विरोधी टीम को कम स्कोर पर रोक सकते है.  या तो हम पहले छह ओवर में बहुत दे देते हैं या फिर आखिरी के चार ओवरों में’ 



धोनी ने आगे कहा, ‘हमारी नांव में कई सारे छेद हैं और अगर हम एक भरने जाते हैं, तो पानी कहीं और से नांव के अंदर भरने लगता है. हमें मिलकर कुछ करना होगा, हर चीज पर खेल में काम करना होगा, जिससे नतीजे मिलें जब हमें नतीजे मिलेंगे, तो चीजें थोड़ी बदल जाएंगी, आपको कॉम्बिनेशन पर ध्यान देना होगा, आप जितने स्पिनर्स देख रहे हैं और जिस तरह से तेज गेंदबाज गेंदबाजी कर रहे है. हमने पांच गेंदबाजों से शुरुआत की थी, लेकिन अब हमारे पास छह गेंदबाज हैं, हम अगले मैच में भी ऐसा कर सकते है. 


उसमें हम एक विदेशी गेंदबाजी को स्वैप कर सकते हैं या फिर एक भारतीय गेंदबाज को ला सकते हैं, लेकिन असली चिंता हमारी बैटिंग है, जहां हम लगातार अच्छा नहीं कर पा रहे हैं. आने वाले मैचों में हम और एक्सप्रेसिव होंगे, इससे अच्छा 17वें ओवर में ऑल-आउट हो जाएं, ना कि आखिरी तक विकेट बचाकर रखें’

Amidst heartbreaks we search for our soul. #Yellove is all we need. 💛 pic.twitter.com/g6jOmodlsB

— Chennai Super Kings (@ChennaiIPL) October 10, 2020



धोनी नी को सुनते वक्त सारे प्लेयर ने अपना मुँह निचे डाल रखा था काफ़ी ख़राब परफॉरमेंस के चलते काफ़ी खामियाजा भुगतना पड़ राहा है. अब दिलचस्पी और बढ़ेगी जब अगली मैच देखने को मिलेगी दोस्तों. 

Read Also