Whats App से आपकी प्राइवेसी कोई भी देख सकता है – जाने क्या है मामला और कैसे बचे

दोस्तों जैसा की हम जानते है आज काल प्राइवेसी अपने जीवन के लिए बहोत मायने रहती है दोस्तों और बात अगर व्हाट्स एप्प की करें तो ये एक हमारा निजी ज़िन्दगी का एक हिस्सा बन चूका है दोस्तों आज हम इस wahats एप्प के बारे मे सामने आया है की कोई भी आपके पर्सनल मैसेज पढ़ सकता है दोस्तों. 





दुनिया का और इंडिया मे सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला व्हाट्स एप्प सबसे ज्यादा सेफ होने का दावा करता आया है मगर क्या ये सेफ है ? लेकिन हाल ही मे सामने आये एक मामले मे इसका सच सामने आया है दोस्तों एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े जांच के दौरान NCB (नारकोटिक कण्ट्रोल ब्यूरो ) व्हाट्स एप्प चाट की मदत से कही जानकारी और सबूत मिले है दोस्तों इसमे कही सारे न्यूज़ चैनल ने व्हाट्स एप्प चाट वायरल हो रहे है और सवाल ये उठ राहा है की ये सब हो कैसे राहा है क्या व्हाट्स एप्प आपके डेटा तो नहीं सिक्योर कर रही है. 



सवाल उठ राहा है की सरकार को आपके व्हाट्स एप्प की जानकारी का पता चल सकता है इन सवालों पर सारी दुनिया परेशान है की आखिर ये होता कैसे है क्या सेन्डर और रिसीवर के अलावा तीसरा भी कोई व्हाट्स एप्प का उपयोग कर सकता है ? 


क्या है पूरा मामला – whats एप्प 


करोड़ों ऐक्टिव यूजर्स वाले मैसेज प्लैटफॉर्म whats एप्प की ओर से यूजर्स के चैट्स सेफ होने का दावा एंड-टू-एंड एनकिप्शन के हवाले से किया जाता है. एनक्रिप्शन का मतलब है कि कोई मैसेज या डेटा कोड फॉरमेट में स्टोर होता है. whats एप्प पर मिलने वाले एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन का मतलब है कि कोई मेसेज या मीडिया केवल सेंडर और रिसीवर ही अपने ऐंड पर ऐक्सेस कर सकते है और कोई तीसरा उन तक नहीं पहुंच सकता. सुशांत केस में पर्सनल चैट्स लीक होने के बाद अब whats एप्प की ओर से एक बार फिर यही बात दोहराई गई है की कंपनी ने कहा है कि वॉट्सऐप अपने यूजर्स को पर्सनल चैट्स नहीं पढ़ता है. 


आप हमेशा बरते ये सावधानिया 


चैटिंग के लिए whats एप्प का इस्तेमाल करने में कोई बुराई नहीं है. लेकिन इसपर किए जाने वाले चैट हमेशा के लिए सेफ है, इस भ्रम में ना रहें. फिलहाल एप्प मिलने वाले सभी ऑथेंटिकेशन और सिक्यॉरिटी ऑप्शंस को ऑन रखें. वॉट्सऐप पर भेजे जाने वाले मेसेज किसी पाइपलाइन जैसे सेटअप से गुजरते है, जिन्हें केवल दो सिरों पर ऐक्सेस किया जा सकता है और इस पाइपलाइन में छेदकर या कोई बदलाव कर मेसेज नहीं पढ़े जा सकते. अटैकर या हैकर सेंडर या रिसीवर के एंड से मेसेज पढ़ने की कोशिश कर सकते है, ऐसे में अपने फोन और ऐप को प्रटेक्टेट रखना बेहद जरूरी है. आप ऐप लॉक और फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेशन भी वॉट्सऐप पर जरूर ऑन रखें दोस्तों. निचे दिए गए लिंक पर जाकर आप अपनी प्राइवेसी को सिक्योर कर सकते है जो सेटिंग आप नहीं जानते तो जल्द कर ले दोस्तों. 





Read Also 


अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहे