Pub – G बैन होने के बाद कंपनी को इतना हुवा नुकसान जाने

                              source

दोस्तों हाल ही मे भारत सरकार ने 118 विदेशी मोबाइल एप्प को बैन कर दिया है, इसमें गेमिंग app से लेकर डेटिंग, बिजनेस और दूसरी तरह के एप शामिल हैं. लेकिन हर जगह चर्चा Pub G मोबाइल गेम बैन की ही हो रही है. Pub G मोबाइल का स्वामित्व चीनी कंपनी टेनसेंट के पास है. भारत में Pub-G की रेवेन्यू हिस्सेदारी पांच फीसदी से भी कम है. लेकिन Pub G पर प्रतिबंध लगाने से कंपनी को तगड़ा झटका लगा है दोस्तों. 



साल 2018 में लॉन्च हुई pub G के 2020 तक भारत में सबसे ज्यादा यूजर्स थे,  दुनिया के कुल यूजर्स में से भारत के 24 फीसदी यूजर्स हैं, वहीं चीन में 16 फीसदी, अमेरिका में यह आंकड़ा 6.4 फीसदी है.


कहाँ से थी सबसे ज्यादा कमाई 


वहीं अगर रेवेन्यू की बात करें, तो सबसे ज्यादा यानी 52% रेवेन्यू चीन से आ रहा है. अमेरिका से 14 % और जापान से 5.6 % है. 


भारत के गेमिंग CEO पीयूष कुमार के मुताबिक, ‘भारत में सिर्फ Pub – G की बात करें तो इस गेम के 1750 लाख डाउनलोड्स हैं, जिसमें से एक्टिव यूजर 750 लाख के आसपास हैं. चीन से ज्यादा लोग भारत में पबजी खेलते हैं. लेकिन कमाई की बात करें तो वो भारत से बहुत कम होती है, ऐसा इसलिए क्योंकि पैसा खर्च कर गेम खेलने वालों की तादाद भारत में कम है दोस्तों.



Pub – G के बैन होने से Tenset को बड़ा झटका लगा है, बीते दिनों टेनसेंट का बाजार पूंजीकरण बाजार अनुसार  2.48 लाख करोड़ रुपये कम हो गया है, जो इस साल की दूसरी सबसे बड़ी गिरावट है दोस्तों ब्लूमबर्ग के अनुसार, जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उसके एप वीचैट पर प्रतिबंध लगाया था, तब कंपनी को 4.81 लाख करोड़ रुपये का घाटा हुआ था ये एक बहोत बडा नुकसान इस कंपनी को भुगतना पड़ा है दोस्तों. 


और आपने देश के IT सेक्टर के लिए ये एक अच्छा अवसर उभरा है ताकि वो इस प्रोजेक्ट पर काम कर एक अच्छा गेम्स डेवलप कर सकते है दोस्तों आगे आईये और इंडिया को आत्मनिर्भर बनाये. 

Read Also ( और पढ़े )




अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहे