बॉलीवुड बेहतर कल की उम्मीद ? क्या नशे मे है बॉलीवुड – समाज के लिए बेहतर कदम क्या ?

दोस्तों जैसा की हम जानते आज कल हर रोज़ नयी नयी खबरें सोशल मीडिया पर छायी हुई है. बॉलीवुड ड्रग्स रैकेट के बारे मे क्या आपने कभी भी यह सोचा है की जब आपके बच्चों मे अगर बॉलीवुड मे जाने की चाहत रखते हो क्या वो वहाँ सेफ होंगे ? क्या उनको सही दिशा मिलने वाली है ? दोस्तों इसी के बारे मे आज हम बात करने वाले है दोस्तों तो चलिए. 




जैसा की सभी को पता हर रोज़ की खबरें, हर कोई यही सोच रहा होता है की हमारे बच्चों मे अगर वो टैलेंट हो और उस नगरी मे भेजने की बात हो तो उसे हम कैसे भेजे ? क्या हमें अपने बच्चों का सपना छीनने मे मज़ा आता है. नहीं दोस्तों ऎसी बात नहीं है, हम सब हमारे जीवन मे चाहे हम किसी भी क्षेत्र मे क्यों ना हो, हर किसीका कोई ना कोई आइडल होता है और उनको ही आँखो के सामने पाकर लोग अपने ज़िन्दगी मे प्रेरणा लेकर आगे चलते है. 


बता दे की हम किसी पार्टी का या किसी मीडिया का पक्ष नहीं रख रहे. ये हमारी हमारे समाज के लिए खुद के विचार के तौर बात कर रहे है दोस्तों. 


इसी मे आपके आइडल ही ड्रग्स और अनेक प्रकार के नशे मे धुत्त हो तो, क्या आप उनको आइडल बनाना चाहेंगे दोस्तों. नहीं ऐसा कोई नहीं चाहेगा हर कोई चाहता है की, हम जिसे मानते है उनकी छबि हमारे दिल मे और दिमाग़ मे रहती और इसी तरह से हम उसे ढालने का प्रयास करते है. 


क्या बॉलीवुड का Bycott करना ही समस्या का निवारण है ? 

दोस्तों जो आज कल सुनाई दे रहा उसमे कोई तथ्य तो होंगा ही जैसे हमारे इंडिया की एजेंसी लगी है वो अपना काम बखूबी कर रहे है दोस्तों. इसमे हमें भी हमारा आम नागरिक होने के नाते अपना फर्ज़ निभाना पडता है. क्युकि आगे जाकर हमारे बच्चे हमारे घर के कोई भी कही अगर जाता है, तो वो वहाँ सन्मान से सिख पाये और हमारे देश को उन्नति की और लेके जाये. सुना है ड्रग्स के बहोत सारे प्रकार होते है. आपने सोशल मीडिया पर सुना ही होंगा पर कोई ये नहीं बताता की आगे इसका असर आने वाले पीढ़ी पर क्या गुजर सकता है. 


कहते है हमें जैसा दिखाई देता है, बताया जाता है वैसे ही हम ढलते है. ये बात सही कही है किसीने दोस्तों क्युकि आपकी आजु बजूका का वातावरण भी आपको बदलकर रख देता है. बॉलीवुड मे जो कुछ भी सुनाई दे राहा है, इसमे ऐसा नहीं होंगा की सभी लोग नशे मे रहते है. यहाँ काबिलियत भी देखि गई है और लोगो ने उनको बहोत प्यार दिया है. इसी की बदौलत अब वो लोग हमारे और हजारों लोगो के नजर मे आयडल के रूप मे उभरे है दोस्तों. 


बॉलीवुड का Bycott करने से कुछ नहीं होने वाला अगर हम एक बेहतर समाज की उम्मीद करते है. तो हमें खुद समज़कर और हम जिसे चाहते है, उनके बारे मे पढ़कर, जानकर ही हम उनको अपना आयडल बनने की सोच सकते है दोस्तों. अगर bycott की बात करें तो हमारी एजेंसी ही उनका Bycott करने मे लगी है हमें उसका टेंशन नहीं. हमें हमारे आने वाले कल के बच्चों के लिए एक नया युग कैसे दे सकते है इसकी हमें चिंता करनी चाहिए दोस्तों. 


जब आपके बच्चे आपसे पूछे 

दोस्तों हर दिन सोशल मीडिया के माध्यम से ड्रग्स कोकेन जैसे बड़े बड़े नशे की बात होती है और आजकल मीडिया का बडा नेटवर्क बढ़ने के कारण हर किसी को जानकारी मिलती है और इसी मे हमारे बच्चे सोचते है. की आखिर ये क्या है ? आप लोगो का यह फ़र्ज बनाता है की, उनको आप सही जानकारी दे, क्या है ? इससे क्या होता है ? ये कैसे हमारे ज़िन्दगी को नर्क बना देती है. अगर आप ऐसे उनको समझाओ गे तो गलत और सही का अंतर समझ पाएंगे दोस्तों और हम उनको एक  बेहतर कल दे सकते है. 


क्या सिख ले सकते है आप बॉलीवुड से 

दोस्तों जैसे जैसे बाते सामने निकलकर आ रही है वो एक अच्छी बात है. इससे कुछ लोगो की सोच और बर्ताव के बारे मे लोग जान चुके है. हम तो सभी यही चाहते है की, हमें अपने अच्छे कल की चाहत सभी को रहती है पर उसे कुछ ही लोग निभाते है. बदलाव मतलब कोई काम नहीं करना पडता. बदलाव मतलब सोच का बदलाव ताकि हमारा परिवार और समाज इस नशे की युग से दूर रहे. ये बदलाव हमें अपने घर से चालू कर धीरे धीरे ये सभी लोगो तक पहुँचता जाता है और इससे एक बेहतर कल का निर्माण होता है. जिसमे आपका ही योगदान होता है ये छोटी छोटी बाते ही बडा रूप धारण करती है दोस्तों. 



उम्मीद करता हु दोस्तों ये हमारे विचार आपको कारगर साबित हो और मानवता को हम एक अच्छे युग मे देख सके. 


Read Also 


अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहे