DRDO ने बनाया एडवांस ड्रोन “भारत ” क्या है DRDO?

                             ड्रोन “भारत “

दोस्तों आज हमारा देश दुनिया के बड़े बड़े देशो को टेक्नोलॉजी के दुनिया मै पूरी तरह से टक्कर देने मै सक्षम है। इंडिया की यही ताकद है चाहे वो बात अंतरिक्ष की हो या आर्मी के एडवांस निति की हर पहलू मै देखा जाये तो आज हमारा देश टेक्नोलॉजी के इस दुनिया मै बहोत आगे निकल चूका है। हिंदी Make Me


DRDO ने बनाया सबसे एडवांस ड्रोन नाम है ” भारत ” 

दोस्तों DRDO ने इंडिया को भारत नाम के ड्रोन को सेना के लिए बनाया है। यह ड्रोन बहोत ही एडवांस है दोस्तों 
चाहे पर्वतीय क्षेत्र हो या अधिक उचाई वाले क्षेत्र हो या चाहे खाडिया हो अपनी एक एक निगरानी सुनिचित करेगा यह ड्रोन। हिंदी Make Me

वो इसलिए क्युकी कई इलाकों मै अतिक्रमण की कोशिश हो सकती है। क्युकी यह ड्रोन काफ़ी दूर से ऑपरेट किया जा सकता है। ड्रोन किसी भी रडार के पकड़ मै नहीं आ सकता है यह ड्रोन चंडीगढ़ के प्रयोग शाला मै विकसित किया गया है। ड्रोन की क्षमता इतनी है की रात हो या ठण्ड यह किसी भी मौसम मै निगरानी कर सकता है। 

क्या है DRDO? ( डिफेन्स रीसर्च डेवलपमेंट
ऑर्गेनाइज़ेशन ) ( रक्षा अनुसन्धान एवं विकास संघठन )

स्थापना 1958 इंडिया के सैन्य शक्ति को मजबूत बनाने के लिए की गई। इसका हेडक्वाटर दिल्ली,  DRDO रक्षा मंत्री के अंडर काम करती है। देश के रक्षा शक्ति को स्ट्रांग बनाये रखने मै इस संस्था का बहोत बड़ा हाथ है। 

इसका मोटो है Strength’s Origin is in science’ 
इसमे 30,000 एम्प्लोयी है जिनमे से 500 साइंटिस्ट है। 
इसी लिए DRDO एक खास संस्था के रूप मै उभर रही है। 

किस तरीके से करता है काम DRDO 

DRDO इंडिया की रक्षा प्रणाली के डिज़ाइन और डेवलपमेंट के लिए लगातार जुटे रहने वाला ऑर्गेनिज़शन है। ये जल, थल नव सेना की रक्षा जरूरतों के अनुसार वर्ल्ड क्लास वेपन सिस्टम प्रोडक्शन करते है। 

दोस्तों इंडिया ने अभी तक बहोत सारे ऐसे एडवांस तकनिकी शत्र आपने देश के लिए बनाये है और इसी प्रकार और आने वाले साल DRDO अपने देश के लिए एडवांस से एडवांस टेक्नोलॉजी वेपन्स लाते रहेंगे। 

अधिक जनकारी के लिए जुड़े रहे